सोमवार, 1 मार्च 2010

गोवन्श आधारित पार्टिकल बोर्ड-इक कल्पना जो बनी सच्चाई
गोवर्धन बोर्ड ऐक समीक्षा
देश की गोवंश रक्षा में भगवान कृष्ण के बृजमंडल में एक अनूठा प्रयोग हुआ और माननीय श्री ॐ प्रकाश जी की कल्पना और प्रेरणा विश्व में पृथम बार गोबर द्वारा निर्मित पार्टिकल बोर्ड का निर्माण प्रारंभ हुआ .
कास्ट का विकल्प, plai ka

देश मे गोवन्श अर्थ व्यवस्था ग्रामिण विकास की धुरी रहा है. जीस दो बैलो कि जोडी के नेत्रत्व मे आजादी की लडाई लडि गयी थी, जो गोवन्श देश मे समर्धि का पर्याय माना जाता था और जिस को कामधेनु यानी सर्व मनोकामना पुर्ण करने मे सक्छ्म माना जाता था वह गोवन्श आज नित्यप्रति अनुपयोगी और भार कह कर असुरकछित कर कसाई के हाथो मे बेच दिया जाता है. देश की आजादी के समय गोवन्श और जन सनसन्खया का अनुपात लगभग समान था जो घट कर आज १:७ से नीचे जा चुका है जब की गोवन्श कि प्रजनन शक्ति कयी गुना ज्यादा है यानी ऐक गाय अपने जीवनकाल मे १०-१२-१५ गोवन्श प्रदान करती है जबकी हम दो ऐक हमारे ऐक यानी केवल ऐक या दो बच्चो का जन्म हो पाता है.
यह सब गोवन्श बढोत्तरी गौचर नही हो केवल कसाई की आमदनी का साधन बन चुकी है. यह षडयन्त्र हमारे देश कि अर्थ वयवस्था, ग्रामिण विकास स्वास्थय के साथ खिलवाड कर रहा है.
विभिन्न प्रयोगो और अनुसनधानो के पश्चात बैल शक्ति गोबर, गौमुत्र के विभिन्न लाभदायक निर्माणो को तैयार किया गया. उन मे से ऐक विशिष्ट उत्पाद पार्टिकल बोर्ड तैयार किया गया.
य़ह पार्टिकल बोर्ड क्या होता है?
प्रभु ने पेडो को पैदा किया हरयाली, फ़ल, औषधि पक्छिओ के बसेरे के लिये लेकिन मानव ने उपयोग प्रारम्भ किया काट कर मकान बनाने मे. इन्धन के रूप मे जलाने मे, और छील कर प्लाई बनाने मे.

भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने लगभग १५ वर्ष पुर्व ईस पर्यावरण विनाशी उद्योग का सग्यान लिया और प्लाई के लिये पेड काटने पर प्रतिबन्ध घोषित किया. प्लाई निर्माताओ ने दुहाई दी कि विभिन्न आरा मिलो मे लकडी काट्ते हुए लकडी का बुरादा बचता है और उन्हे उस के उपयोग से बोर्ड बनाने कि अनुमति दी जाये. देश मे बुरादा यानि पार्टिकल और उस से निर्मित प्लाई यानि पार्टिकल बोर्ड.

डॉ. श्रीकृष्ण मितल
गोवर्धन उद्दोग लिमिटेड
(विश्व का पृथम गोवंश आधारित उद्दोग )
फोटो एल्बम :http://picasaweb.google.com/awbikk

1 टिप्पणी:

RAJESH KUMAR ने कहा…

Excellent use of Goshala waste.i am also particle board manufacturer.maine bhi cow dung ko particle board me use karke dekha hai.
Good luck.